ग्रामीण बच्चों व किसानों को वैज्ञानिक क्रियाकलापों से जोड़े जाने की जरूरत

0

JNI NEWS : 03-01-2014 | By : Jagendra | In : shahjahanpur news

jni8शाहजहांपुर। आज ग्रामीण बच्चों और किसानों को वैज्ञानिक कार्यकलापों से जोड़े जाने की आवश्यकता है, क्योंकि उनके पास बहुत से इनोवेटिव साइंटिफ़िक आइडिया होते हैं और एक अवसर उन्हें प्रोत्साहन प्रदान करके पहचान दिला सकता है।
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, उ.प्र. शासन के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद के संयुक्त निदेशक इं. आई.डी. राम ज़िला विज्ञान क्लब की समीक्षा बैठक में आज जनपद पहुंचे और उक्त विचार व्यक्त करते हुए आगे कहा कि हमारा उद्देश्य जन जन में वैज्ञानिक जागरूकता के साथ नई खोजों और आविष्कारों को संरक्षण देने के साथ उनके पेटेंटीकरण की प्रक्रिया में सहयोग कर संरक्षण देना है।
उन्होंने कहा कि परिषद द्वारा विज्ञान एंव प्रौद्योगिकी की नवीनतम सिद्ध प्रौद्योगिकी जानकारी को प्रदेश में गठित ज़िला विज्ञान क्लबों के माध्यम से विद्यार्थियों और किसानों के बीच पहुंचाने के साथ बच्चों के लिए वैज्ञानिक प्रतिभा खोज, प्रतिभा विकास और प्रतिभा प्रोत्साहन के लिए कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 12 वीं पंचवर्षीय योजना के प्रथम वित्तीय वर्ष में प्रदेश के प्रत्येक ज़िला विज्ञान क्लब के माध्यम से जनपद के ग्राम सभा स्तर तक विज्ञान संचारकों का एक नेटवर्क गठित करना परिषद की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इस नेटवर्क के अन्तर्गत प्रत्येक ग्राम सभा से एक प्रतिभावान विद्यार्थी, एक शिक्षित युवा किसान, एक शिक्षित समाजसेवी महिला, एक शिक्षित बेरोजगार युवा और एक विज्ञान अध्यापक का चयन किया जाएगा।
ज़िला विज्ञान क्लब के ज़िला समन्वयक डा. इरफ़ान ह्यूमन के संचालन में सम्पन्न कार्यक्रम में इं. आई.डी. राम को पुश्पगुच्छ के साथ स्मृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में वैज्ञानिक डा. अर्चना, डा. ए.के. तिवारी, डा. अमरीन इक़बाल, रूफ़िया ख़ान, प्रज्ञा सक्सेना, आसुतोश शुक्ला आदि रिसर्च एवं ज़िला विज्ञान क्लब के सदस्यों का सहयोग रहा।

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-