एसपी आफिस में गश खाकर गिर पड़ी ससुरालियों की सताई रीता

0

JNI NEWS : 07-02-2014 | By : Jagendra | In : shahjahanpur news

555555

शाहजहांपुर। शादी के सात महीने में रीता ने दहेज के कारण ससुराल में सात जन्मों का नकर भोग लिया। दहेज की मांग पूरी न होने के कारण उसे पीटा गया, भूखा रखा गया और तो और मिट्टी तेल डालकर जलाने का भी प्रयास किया गया। बेटी की दारूण दशा की जानकारी मिलने पर पिता लिवाने गया तो ससुराल वाले उसे भी पीटने पर आमाद हो गए। जैसे तैसे जान बचाकर बेटी को ले आया। दहेज लोभियों को सबक सिखाने के लिए कानून की मदद लेने को आज रीता पुलिस कार्यालय आई तो गश खाकर गिर पड़ी।
रीता कलान कस्बे के सत्यपाल की बेटी है। 19 जुलाई 2013 को उसकी शादी एटा जिले के लहचूरा जैथरा निवासी मोनू के साथ हुई थी। शादी में मायके वालों ने रीता के ससुराल वालों को अपनी हैसियत के मुताबिक काफी कुछ दिया। लेकिन ससुराल वाले शादी के बाद बाइक और भैस की मांग करने लगे। पहली बार ही रीता ससुराल गई तो उसे पीटा गया। यह बात उसने मायके आकर बताई। इसके बाद जब पति विदा कराने आया तो मायके वालों ने समझाया बुझाया और विदा कर दिया। इस बार जब रीता ससुराल पहुंची तो ससुराल वालों ने खूब जुल्म ढाया। उसे पीटा और भूखा भी रखा। एक दिन मिट्टी का तेल डालकर जलाने की कोशिश भी की, जिससे उसका पैर झुलस गया। रीता की बड़ी बहन अनीता भी इसी गांव के प्रभूदयाल को ब्याही है। मारपीट के बाद ससुराल वालों ने उसे उसकी बहन के यहां छोड़ दिया। पिता को पता चला तो वह बेटी को लिवाने उसकी ससुराल पहुंचा। ससुराल वाले उसे भी पीटने पर आमादा हो गए।  एटा में थाने पर उसकी सुनी नहीं गई। कलान थाने पर गई तो पुलिस ने टरका दिया। पुलिस कार्यालय आई तो दुखों की मारी रीता अचेत होकर गिर पड़ी।

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-