सेक्स रैकेट पर मेहरबान पुलिस!

0

JNI NEWS : 08-02-2014 | By : Jagendra | In : shahjahanpur news

शाहजहांपुर। 30 जनवरी को शहर रोजा क्षेत्र की दो नाबालिग बहानों की शिकायत पर क्राइम ब्रांच ने उनकी सौतेली मां व पिता को अरेस्ट जो भंडाफोड़ किया था, उससे लगा था कि जल्द ही जिस्मफरोसी कराने वाला पूरा रैकेट पकड़ा जाएगा और कई चेहरे बेनकाब होंगे। लेकिन जिस तरह से क्राइम ब्रांच ने होटल मालिक को दया दिखाकर छोड़ दिया और एक लाख की डील चर्चा में आई, और जिस तरह दस दिन बाद भी होटल मैनेजर और दोनों दलालों को छूट दे रखी गई है, उससे लगता है कि अब पुलिस सारा मामला धीरे धीरे पचा रही है।
बता दें कि शहर के एक बुजुर्ग दंपति ने एसपी से शिकायत की थी उसकी रोजा में रह रहीं दो नातिनों से उसकी सौतेली मां और पिता जिस्मफरोशी करा रहा है। यह मामला एसपी ने क्राइम ब्रांच को सौपा। क्राइम ब्रांच ने उनके मां-बाप को अरेस्ट करने के साथ जिस्मफरोसी का धंधा करने वाले पूरे रैकेट का पर्दाफाश कर दिया। पता चला कि जिस्मफरोसी का धंधा महिला थाने के सामने एक होटल में चलता था। जिसे होटल मैनेजर खलील और दो दलाल अमित व शिवकुमार संचालित कर रहे थे। मैनेजर और दोनों दलाल तो हाथ नहीं लगे, लेकिन होटल मालिक को पुलिस ने पकड़ने के बाद छोड़ दिया। पुलिस ने लड़कियों के ताऊ को भी इसी आरोप में पकड़ा था। उसे भी छोड़ दिया गया। चर्चा रही कि इस छोड़ा पकड़ी के खेल में पुलिस ने अपनी जेबें गरम कीं।
क्राइम ब्रांच ने तब दावा किया था कि सैक्स रैकेट का बड़ा भंडाफोड़ होगा। लेकिन दस दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक न तो होटल मैनेजर और न दोनों दलाल पकड़े गए हैं। बताते हैं कि दोनों दलाल और मैनेजर शहर में खुलेआम घूम रहे हैं और अपने धंधे का संचालन कर रहे हैं। पूर्व में एसओजी में रह चुके दो सिपाहियों से जिस्म के इन सौदागरों से पैठ होने की चर्चा है। चर्चा है कि इस गैंग में रोजा और कांशीराम कालोनी की भी दो लड़कियां हैं। फिलहाल पुलिस अब इस मामले में चर्चा लेती नहीं दिख रही है। चर्चाा है कि जिस्मफरोसी के इस गिरोह के हाथ बहुत लंबे हैं और अब सबकुछ मैनेज हो चुका है।

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-