जलालाबाद में बारातियों पर ग्रामीणों का हमला

0

JNI NEWS : 10-02-2014 | By : Jagendra | In : shahjahanpur news

jalalabad firing

— तीन बाराती समेत चार घायल, जेवर, नगदी मोबाइल लूट लिए
— बारात की कार से कुत्ता कुचलने पर ग्रामीणों ने किया बबाल
— तीन कारों के शीशे चकनाचूर, एक घंटा तक मचा रहा उपद्रव
— पुलिस ने थाने पहुंचे लोगों को पीटा, मोबाइल भी जमा कराए
शाहजहांपुर। बारात की कार से कुत्ता कुचल जाने की घटना ने खून खराबा का रूप ले लिया। जाते वक्त बारात की कार से कुत्ता कुचल गया तो ग्रामीण सारा दिन बारात के लौटने के इंतजार में घात लगाए बैठे रहे और रात में बारात जब वापस आई तो पथराव व फायरिंग कर दी। एक बाराती को छर्रे लगे और दो लहूलुहान हो गए। एक ग्रामीण को भी छर्रे लगे हैं। कई बारातियों को मामूली चोटें आईं। आरोप है कि ग्रामीणों ने इस दौरान एक महिला समेत तीन लोगों की सोने की चेन, बीस हजार रुपया और कई बारातियों के मोबाइल लूट लिए। पथराव व फायरिंग में तीन कारों के शीशे चकनाचूर हो गए। घटना के बाद दोनों ही पक्ष थाने पहुंचे, जिस पर पुलिस ने कई लोगों को थप्पड़ियाने के बाद पहले हवालात में डाला और बाद में उनके नाम पते नोट कर और मोबाइल जब्त कर छोड़ दिया। ज्यादा घायल तीन बाराती और एक ग्रामीण को जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया है।
जलालाबाद के अफतियापुर गांव के सिख फार्मर परमजीत के बेटे की बारात रविवार को शाहजहांपुर आई थी। बारात घर से करीब छह बजे रवाना हुई थी। दिन के दिन शादी का प्रोग्राम था। सुबह सात बजे बारात की कारों का काफिला जब रास्ते में पड़ने वाले गांव नगरिया भूड़ से गुजरा तो कार की चपेट में आकर एक कुत्ते की मौत हो गई। बारात की गाड़ियां तो निकल गईं, लेकिन ग्रामीणों बारातियों को सबक सिखाने की योजना बना डाली। ग्रामीणों को पता था कि सिखों की बारात दिन के दिन ही होती है। बारात शाम को उसी रास्ते से लौटेगी, इसलिए ग्रामीण घात लगाए बैठे रहे। देर शाम बारात की तीन कारें गुजरीं तो ग्रामीणों ने उन्हें रोक लिया और कुत्ते के कुचलने की बात कहकर गाली गलौज करने लगे। इसके साथ ही ग्रामीणों ने मारपीट और पथराव शुरू कर दिया। बताते हैं कि दोनों ओर से गोलियां भी चलीं। ग्रामीणों ने उनकी तीनों कारें चकनाचूर कर दीं। बारात में शामिल शाहजहांपुर के मोहल्ला रामनगर कालोनी निवासी अमित कपूर की बाह में छर्रे लगे। बाराती हरपाल सिंह और हरप्रीत सिंह को गंभीर चोटे आईं। बाकी बाराती गुरविंदर, गुरप्रीत, गोपी व रम्मन को भी चोटें आईं। बारातियों का आरोप है कि हमलावरों ने रम्मन के बीस हजार रुपये, मोबाइल, बंटी की चेन व मोबाइल, राजदीप कौर की चेन आदि छीन ली। उधर गांव के जयवीर की भी पीठ में छर्रे लगे हैं। घायलों का कहना है कि पूरे मामले में पुलिस का रवैया ठीक नहीं रहा। पुलिस ने मारपीट में घायल हुए लोगों को पीटा और कई लोगों के मोबाइल छीन कर रख लिए।

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-